Dono Jahan Teri Mohabbat mein

Dono Jahan Teri Mohabbat mein haar ke

Wah ja raha hai koi shab e game guzar ke

Faiz Ahmed Faiz

दोनों जहां तेरी मोहब्बत में हार के

वह जा रहा है कोई शाबे गाम गुज़ार के

फैज़ अहमद फैज़